“वकत आ गया है, मेरे कवि दोस्त!”-कविता जो आपको सोच में डाल देगी

नवाजुद्दीन सिद्दीकी और रामनिक सिंह की कविता “वकत आ गया है, मेरे कवि दोस्त!” आपको सोच में डाल देगी आखिर

Read more

जहां भी आज़ाद रूह की झलक पड़े समझना वह मेरा घर है-अमृता प्रीतम की अमोल कविताएं

अमृता प्रीतम एक भारतीय लेखक और कवि थीं,जिन्होंने पंजाबी और हिंदी में लिखा था।उन्हें पंजाबी कवि, उपन्यासकार, और निबंधकार, और

Read more